दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में पटाखे पर लगी पाबंदी के बाद भी पटाखों के धुएं ने जहरीली की हवा, दिल्ली-नोएडा की वायु बहुत खराब श्रेणी में पहुंची

दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में पटाखे चलाने पर लगी पाबंदी का उल्लंघन करते हुए दिल्लीवासियों ने दिवाली की रात न सिर्फ आतिशबाज़ी की, बल्कि तेज़ आवाज़ वाले पटाखे फोड़े गये ल इस वजह से दिवाली की रात दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण की सेहत बिगड़ गई। दिल्ली और नोएडा में वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई।

इससे पहले दिल्ली का एक्यूआई सोमवार तक 301 दर्ज की गई थी। वायु मानक एजेंसियों ने पहले ही पूर्वानुमान जता दिया था कि दीपावली की देर रात तक हवा बहुत खराब से लेकर गंभीर श्रेणी में पहुंच सकती है। उधर, रविवार को दिल्ली समेत एनसीआर के सभी शहरों की हवा खराब श्रेणी में रही थी। विशेषज्ञों का कहना है कि दिल्ली में प्रतिबंध के बावजूद पटाखे जलाए जा रहे हैं। ऐसे में दीपावली की रात में जमकर पटाखे जलाए गए। इसलिए हवा की सेहत बहुत गंभीर श्रेणी में जा पहुंची।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, दिल्ली में रविवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 259 दर्ज किया गया था, जो दिवाली से एक दिन पहले सात साल में सबसे कम रहा। रविवार को भारत-पाकिस्तान के क्रिकेट मैच में भारतीय टीम के जीतने पर लोगों ने खुशी में जमकर पटाखे जलाए।