तूफान: चक्रवात ‘सितरंग’ ने असम में मचाई तबाही, 1000 से ज्यादा लोग प्रभावित, 325.501 हेक्टेयर फसल हुई नुकसान

सितरंग: बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती तूफान ‘सितरंग’  के कारण असम में स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। चक्रवात के चलते हुई भारी बारिश में बड़ी तादाद में घरों को नुकसान पहुंचा है। यहां चक्रवाती तूफान के कारण आई बाढ़ से 83 गांव के करीब 1100 लोग प्रभावित हुए हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन के आंकड़ों के अनुसार, तूफान से 1146 लोग प्रभावित हुए हैं और 325.501 हेक्टेयर फसल को नुकसान पहुंचा है।

अधिकारियों ने बताया, सितरंग ने असम में सोमवार को प्रभावित करना शुरू किया। राज्य के नगांव जिले के कई क्षेत्रों में तूफान के कारण कई पेड़ व बिजली के खंभे उखड़ गए। रिपोर्टों के मुताबिक, कलियाबोर, बामुनि, सकमुठिया चाय बागान और बोरलीगांव में कई घरों को नुकसान पहुंचा। हालांकि, तूफान में अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

बता दें, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से चक्रवात सितरंग को लेकर सोमवार को ही चेतावनी जारी की गई थी। इसके तहत चक्रवात सितरंग के कारण असम, मेघालय, मिजोरम, त्रिपुरा में भारी से भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया था। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया था कि बांग्लादेश में चक्रवात गहरा दबाव क्षेत्र बना रहा है, जिसके आने वाले सप्ताह में उत्तर-पूर्वी बांग्लादेश, अगरतला और शिलांग की तरफ बढ़ने की संभावना है।

मॉनसूनी बारिश के बाद भारतीय मौसम विभाग ने अगले कुछ दिन कई राज्यों में अलर्ट जारी किया था। आईएमडी के मुताबिक, कुछ राज्यों में दिवाली, गोवर्धन पूजा और भैयादूज के दिन चक्रवाती तूफान सितरंग की वजह से भारी बारिश हो सकती है। मौसम की चेतावनी है कि साइक्लोन (चक्रवाती तूफान) सितरंग कई राज्यों में तबाही भी मचा सकता है। मौसम विभाग का यह अलर्ट पश्चिम बंगाल, ओडिशा समेत कई राज्यों के लिए था।