Breaking News

Big Breking News-बोल की लब आजाद है तेरे…भाग (2)आखिर क्यों नतमस्तक है एक्सिस बैंक महराजगंज के आगे PM मोदी का डिजिटल इंडिया

सरकार भानु प्रताप तिवारी

महराजगंज। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डिजिटल इंडिया के माध्यम से देश के हर नागरिक को सशक्त बनाना चाहते हैं, लेकिन उनकी ही सरकार का एक बैंक इस पर बट्टा लगाना चाहता है। जो प्रधानमंत्री के डिजीटल इंडिया के नाम पर मोदी के सपनो को मुँह चिढ़ाता नजर आ रहा है। जी हां, उत्तर प्रदेश के जनपद महराजगंज का Axis Bank के उन भ्रष्ट कर्मचारियों का है जो बिना दस्तावेज के ही फर्जी अकॉउंट खोल दिये ,जी हां बिना दस्तावेज के ही अकॉउंट खोल दिये!

बिना दस्तावेज के अगर खाता खुलवाना है तो आइये उत्तर प्रदेश के जिला महराजगंज के एक्सिस बैंक*
*https://erranewsindia.com/big-breaking-news-if-you-want-to-open-an-account-without-documents-then-come-axis-bank-of-maharajganj-district-of-uttar-pradesh/

जनपद महराजगंज स्थित नगर के मुख्य शाखा के दो कर्मचारियों के वजह से बैंक हुआ संदिग्ध , जनपद महराजगंज के एक्सिस बैंक का है जहाँ बिना दस्तावेज के ही खाता खोलने के लिए बैंक मैनेजर से लेकर ब्रांच मैनेजर तक कि मिली भगत से खुल गया फर्जी तरीके से खाता, जहाँ एक उपभोक्ता ने उत्तर प्रदेश के जनपद महराजगंज के एक्सिस बैंक में खाता खोलने के लिए बैंक मैनेजर के पास जाता है जहाँ उसकी एक न सुनी जाती है ,खाता खोलने के नाम और सुविधा शुल्क अलग से डिमांड की जाती है और महीनों से उस उपभोक्ता को बैंक का चक्कर लगवाया गया, लेकिन खाता नहीं खोला इस बात से तंग आकर उपभोक्ता ने अपने सभी दस्तावेज बैंक मैनेजर से वापस ले लिए और एक्सिस बैंक के उच्च अधिकारियों को मेल कर दिया, उसके बाद जनपद महराजगंज के बैंक मैनेजर और सहायक ब्रांच मैनेजर अरविंद तिवारी जी अपना गला फंसता देख तत्काल ही बिना दस्तावेज के ही उस उपभोक्ता के खाते को खोल दिया अभी इतना ही नहीं उस उपभोक्ता से बिना किसी दस्तावेज के ही खाता खोल दिया । जब उस उपभोक्ता ने इस बारे में सहायक ब्रांच मैनेजर को अवगत पुनः कराया की उनका खाता बन्द कर दिया जाए लेकिन अपनी नौकरी बचाने के लिए बैंक मैनेजर और सहायक मैनेजर अरविंद तिवारी ने उस उपभोक्ता की खाता नहीं बन्द की है जब कि उस उपभोक्ता के खाता में माइनस 3800 रुपये बढ़ रहे है । क्या इस मामले में यह भी देखा जा सकता है कि जनपद महराजगंज नेपाल राष्ट्र से सटे होने के नाते क्या ये बैंक आतंकी संगठन के भी फर्जी तरीके से अकॉउंट खोलने में भी कारगर साबित होती रहती है इससे आसान तरीके से कुछ होगा ही नहीं अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं लेकिन महराजगंज के ब्रांच मैनेजर से लेकर बैंक मैनेजर तक के सभी अधिकारियों के द्वारा इस तरह के भ्र्ष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है ,क्या इस मामले में सरकार क्या कार्यवाही करती है ये सोचने का विषय है लेकिन जिले के उन आला अधिकारियों को भी ये सोचना चाहिए कि नेपाल बॉर्डर के समीपवर्ती जिले में एक बैंक के द्वारा इस तरह से फर्जी तरीके का खाता खोल देना कही न कही ये साबित करता है कि जनपद में इस तरह के कई अन्य खाते में संचालित हो रहे है जिनकी हिस्सेदारी बैंक मैनेजर और ब्रांच मैनेजर को जाती है ये भी हो सकता है जनपद महराजगंज से बाहर के आतंकी संगठनों को Funding का काम करते है Axis बैंक के कर्मचारी, देखना ये है कि इस मामले को मौजूदा सरकार संज्ञान में लेती है या नहीं नहीं तो ये पता नहीं कितनी फर्जी खाता खोल कर देश को और गर्त में डालेंगे।जनपद महराजगंज अधिकारी क्या इस मामले को संज्ञान में लेंगे या इसे भी ठंडे बस्ते में डाल देंगे क्या इन दोषियों के खिलाफ कार्यवाही होगी…?
या ये भी एक खबर बन के महज कागजों पर ही रह जायेगी.?

Most Popular