World

राष्ट्रपति शी जिनपिंग के तिब्बत दौरे से सभी हैरान, जाने क्या है कारण

भारत के साथ सीमा पर चल रहे तनाव के बीच चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग ने तिब्‍बत के दौरे ने सबको हैरान कर दिया है। बता दें कि सत्‍ता संभालने के बाद यह शी जिनपिंग का पहला तिब्‍बत दौरा है। चीन की सरकारी संवाद एजेंसी शिन्‍हुआ के अनुसार शी जिनपिंग ने भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्‍य से सटे चीन के न्यिंगची शहर का दौरा किया है। यही नहीं शी जिनपिंग ब्रह्मपुत्र नदी को भी देखने गए जिस पर भारत इसका विरोध के बावजूद चीन दुनिया का सबसे बड़ा बांध बना रहा है। बता दें कि भारत-चीन सीमा विवाद में 3,488 किलोमीटर की वास्तविक नियंत्रण रेखा शामिल है।

न्यिंगची जून में उस समय चर्चा में आया था जब तिब्बत की प्रांतीय राजधानी ल्हासा को निंगची से जोड़ने वाली चीन की बुलेट ट्रेन को पूरी तरह से शुरू किया था। बता दें कि तिब्बत ने चीन के साथ 17 सूत्रीय समझौते पर 23 मई, 1951 को हस्ताक्षर किए गए थे। चीन इस समझौते को “तिब्बत की शांतिपूर्ण मुक्ति” के तौर पर मनाता आ रहा है। परंतु इ समझौते को तिब्बत के धर्मगुरु दलाई लामा ने कहा था कि चीन की कम्यूनिस्ट पार्टी ने तिब्बत को समझौता करने के लिए मजबूर किया है और अपने वादों को तोड़ने का काम किया है।

Most Popular