Uttar Pradesh

लखनऊ : नौकरी डॉट कॉम से डाटा लेकर करते थे कॉल ,कॉल सेंटर से नौकरी का झांसा देकर युवाओं को ठगते थे ,11 गिरफ्तार

लखनऊ :अलीगंज पुलिस व क्राइम ब्रांच ने ऐसे कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है जहां से युवाओं को फोन कर अच्छी जॉब का ऑफर देकर रजिस्ट्रेशन किया जाता था। फिर लिंक शेयर करके खाते से रकम उड़ा दी जाती थी। कॉल सेंटर से नौ युवतियों समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कॉल सेंटर का संचालक चार साल में विभिन्न राज्यों के हजारों युवाओं को शिकार बना चुका है।

कॉल सेंटर से नौकरी का झांसा देकर युवाओं से ठगी की कुछ शिकायतें मिलने पर पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने कुछ दिनों पहले डीसीपी (क्राइम) पीके तिवारी व डीसीपी (उत्तरी) देवेश कुमार पांडेय को कार्रवाई के निर्देश दिए थे। छानबीन में सुराग मिलने पर अलीगंज पुलिस व क्राइम ब्रांच टीम ने पुरनिया में पेट्रोल पंप के पीछे कैलाश प्लाजा में चल रहे कॉल सेंटर पर छापा मारा। वहां से नौ युवतियों समेत 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया। कॉल सेंटर से 17 मोबाइल, 12 कंप्यूटर, एक प्रिंटर, एक लैपटॉप, एक एलईडी टीवी, दो डिश के सेट टॉप बॉक्स, एक डिजिटल कार्डलेस फोन, वाईफाई सेट टॉप बॉक्स, लेटर पैड, मोहर व चार पेन ड्राइव बरामद हुईं हैं। कॉल सेंटर से दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, बिहार, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र आदि राज्यों के हजारों युवाओं से ठगी की जा चुकी है। कई पीड़ितों ने संबंधित जिलों में पुलिस से शिकायत भी की मगर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई।

कॉल सेंटर का संचालक अनुज कुमार पाल बेरोजगार युवतियों को छह से आठ हजार रुपये वेतन पर कॉलिंग के लिए नौकरी पर रखता था। फिर उन्हीं से सुबह दस से शाम पांच बजे तक बेरोजगारों को कॉल कराता था। जो युवक-युवती झांसे में आकर नौकरी के लिए रजिस्ट्रेशन कराते थे, उन्हें लिंक भेजकर खाते से रकम उड़ाने का काम अनुज खुद करता था। कॉलिंग करने वाली युवतियां पांच-छह महीने में जब तक माजरा समझतीं वह किसी बहाने से उन्हें नौकरी से निकालकर दूसरी लड़कियों को नौकरी पर रख लेता था।

Most Popular