नियम: अब ट्रेनों में एस्कॉर्ट करने वाले आरपीएफ जवान को एके-47 के बजाय मिलेंगे छोटे हथियार

बदलाव: रेलवे ने फैसला किया है कि अब ट्रेनों में एस्कॉर्ट करने वाले आरपीएफ जवान एके 47 जैसे अत्याधुनिक हथियार लेकर नहीं चलेंगे। इस संबंध में ट्रेन एस्कॉर्ट पार्टी को आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं। जारी किए गए निर्देशों में कहा गया है कि आरपीएफ जवान ट्रेनों में एके 47 के बजाय अब छोटे हथियार लेकर चलेंगे। सारनाथ एक्सप्रेस में हुई घटना के बाद यह फैसला लिया गया है।

ऐसे में यह तय किया गया है कि सिर्फ नक्सल प्रभावित इलाकों में ट्रेनों में एस्कॉर्ट के लिए आरपीएफ जवानों को एके-47 दी जाएगी। अन्य इलाकों में उन्हें छोटे हथियार दिए जाएंगे। यह जानकारी आरपीएफ महानिदेशक मनोज यादव ने दी। छत्तीसगढ़ के रायपुर में सारनाथ एक्सप्रेस में आरपीएफ जवान की राइफल से चली गोली से उसकी मौत व यात्री के घायल होने के मामले को आरपीएफ ने गंभीरता से लिया है।

उन्होंने बताया कि यह मामला लापरवाही है, साथ ही ट्रेनिंग की विफलता का भी है। हथियार के रखरखाव में जवान ने लापरवाही बरती, जिससे हादसा हुआ। उन्होंने कहा कि ऐसे हादसे दोबार न हों, इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आरपीएफ जवानों के लिए स्पेशल ट्रेनिंग प्रोग्राम बनाए जा रहे हैं। हथियारों के रखरखाव में लापरवाही बरतने पर कार्रवाई भी की जाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *